(BEST) 31+ अंश पंडित: Ansh Pandit Shayari Lyrics In Hindi:

Spread the love
Love aur sad shayari के लिए फेमस अंश पंडित की बेहतरीन शायरी जो आपके दिल को छू जाएगी। प्यार, मोहब्बत और धोखा और ऐटिटूड शायरी,  इस पोस्ट में फ्रेंड्स आपके लिए  Ansh Pandit Shayari Lyrics In Hindi, Ansh pandit tiktok shayari, Ansh pandit shayari in written अंश पंडित की लव शायरीऔर ऐटिटूड शायरी दोनों इस पोस्ट में है जो आपको जरूर पसंद आएँगी अपने विचार हमे कमेंट में बताना ना भूले।
Ansh Pandit Shayari Lyrics In Hindi

ANSH PANDIT SHAYARI LYRICS IN HINDI: 

1.
दोस्त रूठ जाते है
पर दोस्ती कभी नहीं टूटती –२
नाराजगी चाहे हो,
दोस्ती नहीं छुटती।
2.
हम जरा ठहर से क्या गए
लोग हमें चलना सीखा रहे है–२
देखो ें कल की चिंगारियों को
ये दीपक को जलना सीखा रहे है।
3.
अब कोई पसंद आ भी गया
तो इजहार नहीं करेंगे –२
पहले बहोत धोखे खा लिए
अब दोबारा प्यार नहीं करेंगे।
4.
दुनियां में सच्चा इश्क़  तो
केवल माँ-बाप ही करते है –२
बाकि सब तो बस इश्क़ का दिखावा करते है।
5.
वो बेवफा है तो क्या हुआ
मत कहो बुरा उसे –२
हम किसी और को सेट कर लेंगे
“दफा करो उसे “
6.
रोज तेरा इंतजार होता है
रोज ये दिल बेक़रार होता है
काश तुम समझ पाते
की चुप रहने वालों को भी
किसी से प्यार होता है।
7.
इश्क़  में मुझे लगता है की
शायद इतनी तो सिद्द्त चाहिए
PUBG खेलते वक्त मैंने तेरी कॉल उठा ली
और तुम्हे कितनी मोहब्बत चाहिए।
8.
तेरी वो मीठी-मीठी बाते
मुझे आज भी याद आती है–२
अरे सुक्र है उस PUBG का
जो तेरे दिए हुआ जख्मों पर मरहम लगाती है।

ANSH PANDIT SHAYARI IN WRITTEN:

9.
बस भी करो और कितना रुलाओगे
मरते है तुमपे कल सबको बताओगे
आज तुम्हारे पास है तो दूर भागते हो –२
कल जब ना रहे तो खुद से नज़ारे चुराओगे।

10.

इस दिल में प्यार थे कितना
 ये वो जान लेते तो क्या बात थी
हमने माँगा था उन्हें खुदा से
वो भी मांग लेते तो क्या बात होती।

11.

आज कल के इश्क का यही दस्तूर है
जिसे दिल से चाहो वही खुद से दूर है
उसे पाना नहीं किस्मत में मेरे …२
और खोना दिल से ना मंजूर है।

12.

मत करना इश्क बहुत झमेले है …२
हसते साथ है रोते अकेले है।

13.

इस मोहब्बत की बारिश में अब भीगना नहीं है …२

हाँ इश्क है तुमसे मगर अब कहना नहीं है।

14.

गवाही ना मांग मुझसे

की मै इश्क में तुझे कितना चाहता हूँ… 2
खुदा भी परेशान है मुझसे
 की मै इतनी दफा मन्नत में तुझे ही क्यों मांगता हूँ।

15.

तेरे चहरे सा दिलकस नजारा हो नहीं सकता
लगता है तुम्हारे बिना गुजारा हो नहीं सकता
तब प्यार करने में ज्यादा मजा आता है…२
जब पता हो वो हमारा हो नहीं सकता।

16.

तरस गये आपको देखने के लिए
दिल फिर भी आपको प्यार करता है
हमसे अच्छा तो आपके घर का आइना है…2

कम से कम आपको देख तो सकता है।

 

17.

हाँ हमें मोहब्बत है उनसे इंकार कैसे करें
जब हमसे होता ही नहीं तो प्यार कैसे करें।

18.

जाने क्यू हमें आसू बहाना नहीं आता
जाने क्यू हाले दिल बयां करने नहीं आता
क्रस हमें छोड़ के चली जती है
सायद हमें ही इजहार करना नहीं आता।

19.

हममे और आपमे फर्क इतना है
की आप दिल देकर बैठे है
हम धोखे खाकर बैठे है,
हमें तो प्यार की भाषा से नफरत सी हो गयी
और आप किसी के प्यार में दिल लगाकर बैठे है।

20.

धीमे ही सही पर चल तो रहा हूँ ना
इश्क की आग में जल तो रहा हूँ ना
तेरी ख़ुशी के लिए अलविदा कह दिया मैंने …२

तुझे पाने के लिए तरस तो रहा हूँ ना।

 

21.

उसके चहरे पर कुछ इस कदर नूर है
की उसकी यादो में रोना भी मंजूर है
यार बेवफा भी नहीं कह सकते उसको
क्युकी प्यार तो हमने किया था
वो बेचारी तो बेकसूर है।

22.

दोस्ती तो एक झोका है हवा का
दोस्ती एक नाम है वफा का
औरों के लिए चाहे जो भी हो
हमारे लिए तो एक तोह्फा है खुदा का।

23.

किस्मत के भी खेल हजार है
जो मिल नहीं सकता उससे ही प्यार है
एक को कोई फर्क नहीं पड़ता
और दूसरा जान देने के लिए तैयार है।

24.

तूने मुझे ऐसा गिराया की मै खुद से उठना सिख गया
अब मुझे तेरी जरूरत नहीं मै तेरे बिना जीना सिख गया।

25.

वहा का दरिया कभी रुकता नहीं है
 इश्क में आसिक कभी झुकता नहीं है
खामोश है हम किसी की खुसी के लिए

वरना ये ना सोचो की हमारा दिल दुखता नहीं है।

 

26.

अगर हम ना मिले होते उनसे यूँ
तो दिल यूँ बेक़रार ना होता
ना नज़ारे मिलाती उनसे
और न उनसे प्यार होता।
27.

कौन कहता है मैं झूठ नहीं बोलता
कोई मुझसे मेरा हाल पूछ कर तो देखिये।

 

28

ना किसी से प्यार है, ना हमें कोई प्यारा है,
ये वहम निकल दिया हमने दिल से..
की इस जहाँ में कोई हमारा है।

29.

तजुर्बे देकर ऐ जिंदगी
तुमने हमारी मासूमियत छीन ली।

30.

जलने वाले जितना जलते है हम उन्हें उतना जलाते है
उनमे और हममे फर्क इतना है…
वो ज़माने के आगे झुकाते है,
हम ज़माने को झुकाते है।

31.

चहरे के ऊपर चेहरा लगाया है हमने…
अक्सर दूसरों को खुश रखने के चक्कर में
खुद को बहोत सताया है हमने।

32.

मुझे गम नहीं की तू मेरे साथ ना हो
बस फ़िक्र एस बात की है
की तेरे हाथ में कोई गलत हाथ ना हो।

6 thoughts on “(BEST) 31+ अंश पंडित: Ansh Pandit Shayari Lyrics In Hindi:”

Leave a Comment