कोरोना पर शायरी लेख: बेबस इंसान | Corona shayari in hindi

अगर आप चहरे पर मास्क
और लोगों से दुरी बना रहे हो
तो आप भी योद्धा हो
जो लोगों को बचा रहे हो। 



हर सहर उजड़ा-बिखरा सा लगता है
इंसान की गलतियों पर
कुदरत का कहर लगता है,
कैसी तरक्की कर ली इंसानो ने
आज एक दूसरे से मिलने से दर लगता है। 

Corona shayari in hindi

खुद को शहंशाह मत समझिये ज़नाब,
"मास्क लगा लीजिये"
आज शहंशाह ख़ुद अस्पताल में हैं। 



इस कोरोना से युद्ध में आप ही जीत दिला सकते हो,
ख़ुद को बचा कर आप दुनिया को बचा सकते हो। 


Corona shayari in hindi


अब सहरो में संन्नाटा है
मजदूरों का शोर...
कुछ न कर सका इंसान
काल पर किसका जोर। 

Corona shayari in hindi

बेबस है जिंदगी
डरा है इंसान,
एक छोटे से वायरस से सारी दुनिया है परेशान
थोड़ी सी मदत थोड़ा सा ध्यान,
बच सकते हो इंसान। 

sad shayari for corona

जिंदगी और मौत की दिख रही दौड़
हर तरफ है, खौफ जाये किस ओर
खतरा तो यहाँ हर शख्स से है जनाब
चेहरा नहीं बताता किससे मिले किसे दे छोड़। 


shayari for corona warriors

सलाम है उन्हें जो हमेशा तैनात रहते है
परवाह नहीं कितने भी मुश्किल हालत रहते हो
खुद की फ़िक्र छोड़कर हमरी हिफाजत करते है
ऐसे कोरोना योध्धाओ को दिल से सलाम करते है।